अगस्त 04, 2012

कुदरत के नज़ारे

प्रिय ब्लॉगर साथियों,

आज आपके साथ अपने द्वारा लिए गए कुछ प्राकृतिक फोटो बाँट रहा हूँ जिसमे कुछ प्राकृतिक दृश्य हैं, कुछ फूल है, कुछ परिंदे और कुछ जानवर.......सभी फूलों के नाम मुझे पता नहीं हैं जो मुझे अच्छा लगा वो मैंने ले लिया....अगर आप में से किसी को पता हों तो ज़रूर बताये.........फोटो कैसे लगे ज़रूर बताएं और एक बात और क्या आगे भी इस ब्लॉग पर फोटो डालने चाहिए या नहीं  :-)

प्राकृतिक दृश्य 


दूर तक फैला रेगिस्तान, जैसलमेर 

रेगिस्तान में सूर्यास्त, जैसलमेर 

गंगा नदी सावन के मौसम में , हरिद्वार

ऊँचे पहाड़ से उदयपुर का दृश्य 

ऊँचे पहाड़ से दिखती छोटी सी सड़क, उदयपुर 

झील का घुमाव, उदयपुर 


झील में सूर्यास्त, उदयपुर 

फूलों के रंग 


मन को मोहते रंग ????????

संतरी रंग का गुलाब, रानी पद्मनी का महल, चित्तौडगढ़

सफ़ेद रंग का गुलाब, रानी पद्मनी का महल, चित्तौडगढ़

लाल रंग का गुलाब, रानी पद्मनी का महल, चित्तौडगढ़

???????

शायद कमल ?????

शायद कमल ?????

????????
परिंदे और जानवर 

ख़ुशी में झूमता रंगों को बिखेरता मोर, उदयपुर 

 पेड़ की छाँव में आराम करते लंगूर, मन्दौर (जोधपुर)

 सुकून से घास चरता हिरन, सिकंदरा (आगरा)

 माँ का जज्बा हर रूप में एक जैसा बारिश से बच्चे को बचाती माँ, हरिद्वार  

 कुदरत के अनोखे रंगों को समेटे तितली, उदयपुर 

 लुप्त हो चुकी प्रजाति 'गिद्ध' - अजायबघर उदयपुर 

 आराम करते हुए हिरन - अजायबघर, लखनऊ 

 सफ़ेद स्वच्छ सरस, दिल्ली 

पानी में मस्ती करती बत्तखें, दिल्ली 

मन मर्ज़ी करती मैना, दिल्ली 

और आखिर में फोटोग्राफर का भी एक :-)) 

26 टिप्‍पणियां:

  1. बेहतरीन प्रकृति के लाजबाब चित्र ,,बधाई इमरान जी,,,,

    RECENT POST काव्यान्जलि ...: रक्षा का बंधन,,,,

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. बहुत बहुत शुक्रिया धीरेन्द्र जी ।

      हटाएं
  2. सभी चित्र आपके अनोखे देखने के अंदाज़ और उंगलियों के चमत्कार को बाखूबी दिखा रहे हैं ... मस्त है सभी फोटो ... आपके फोटो के साथ ...

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. बहुत बहुत शुक्रिया दिगंबर जी :-))

      हटाएं
  3. सभी चित्र बहुत ही अच्‍छे लगे ... इस बेहतरीन सचित्रावली के लिए बधाई सहित शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  4. सुंदर तस्वीरें हैं।

    आपकी फोटो देखकर तो लग रहा है अब मुझे फोटो डालना बंद कर देना चाहिए।:)
    ब्लॉग पर जरूर डालिए मगर धीरे-धीरे। एक साथ इत्ता सारा नहीं। वह कमल ही है।

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. बहुत बहुत शुक्रिया देव बाबू.....अरे ऐसा हरगिज़ न करें आप के फोटो देखकर ही तो ब्लॉग पर डालने का ख्याल किया है :-)

      हाँ आगे से थोड़े थोड़े ही डालूँगा......उसका पक्का पता नहीं था कुछ लोगों ने कहा की यह कमल ककड़ी कहलाता है इसलिए मैंने पूरा नहीं लिखा......शुक्रिया आपने जानकारी दी ।

      हटाएं
  5. चित्रमय खुबसूरत प्रस्तुती......

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत खूबसूरत फोटो लिया है आपने इमरान भाई...
    सादर बधाई।

    उत्तर देंहटाएं
  7. लाजवाब फोटो हैं... कुदरत से सभी रंग सिमट गए हैं इनमे...

    उत्तर देंहटाएं
  8. मनमोहक चित्र.... मोर बहुत पसंद आया

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. शुक्रिया मोनिका जी .....आपको पसंद आया कोशिश सफल हुई :-))

      हटाएं
  9. Nice photos.

    aage bhi foto dikhate rahen aap.

    shukriya.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. शुक्रिया जमाल साहब.....कोशिश जारी रहेगी।

      हटाएं
  10. बन्दर मोर हिरन चमगीदढ़,
    मैना सारस तितली रानी |
    हरा-भरा यह उदय शहर है,
    सरल-चित्र की मूक बयानी |
    फूल पत्तियों काँटों की भी,
    रानी के संग बनी कहानी |
    फोटोग्राफर साधुवाद है,
    दाद दे रही रविकर वाणी ||

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. शुक्रिया रवि जी ब्लॉग पर आने और इतनी सुन्दर टिप्पणी देने का.....आगे भी आते रहें ।

      हटाएं
  11. कुदरती सुंदर नजारे , फूल पक्षी दृश्य प्यारे
    दे रहे खुशियाँ हृदय को आपके ये चित्र सारे ||

    दो सप्ताह ही उदयपुर और चित्तौड़गढ़ घूम कर आया हूँ, इसीलिये और भी प्यारे लगे हैं.

    उत्तर देंहटाएं
  12. शुक्रिया अरुण जी ब्लॉग पर आने और इतनी सुन्दर टिप्पणी देने का.....आगे भी आते रहें ।

    उत्तर देंहटाएं
  13. बिलकुल कीजिए रश्मि जी जज़्बात कॉपी राइट से मुक्त है :-)

    उत्तर देंहटाएं
  14. इमरान ...इतनी अच्छी फोटो शेयर करने के लिए शुक्रिया ...

    हर ब्लोगर कुछ ना कुछ सिखाता हैं ...आज तुम्हारे ब्लॉग को देखने के बाद एक नए नज़रिए पर ध्यान गया

    उत्तर देंहटाएं
  15. मेल से मिली अमृता जी टिप्पणी -

    ''आप तो कमाल के फोटोग्राफर भी हैं..बहुत ही ख़ूबसूरत..पलकें झपक ही नहीं
    रही है..''

    उत्तर देंहटाएं

जो दे उसका भी भला....जो न दे उसका भी भला...